(Best 151+) Rahat Indori Shayari, Poetry, Status in Hindi 2021

Show Some Love By Sharing!

Hello My All Dear Friends, I hope you are all well And Happy. Today I will try to provide you some unique, trending, and best content only on Ourlifemantra (खुश रहो, मस्त रहो) Blog. So, in this post I am going to share Rahat Indori Shayari in Hindi With Photos. You can read those Best Rahat Indori Hindi Shayari 2021 For Whatsapp and copy the best lines of your choice.

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
Rahat Indori Shayai in Hindi 2021

I am sure your friends will also like this Latest Rahat Indori Shayari in Hindi 2021. So scroll down the page and read below Hindi Rahat Indori Shayari 2021 for WhatsApp and choose your Best Rahat Indori Shayari 2021. Share this post with your friends also. By clicking on the social share icon given in the downside bar…❤❤✍

Here below we have listed 151+ Best Rahat Indori Shayari, Poetry, Status in Hindi 2021, let’s get started 🙂

New Rahat Indori Shayari, Poetry, Status in Hindi 2021

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
Famous Rahat indori Shayari

हों लाख #ज़ुल्म मगर बद-दुआ’ नहीं देंगे
ज़मीन माँ है ज़मीं को #दग़ा नहीं देंगे।…❤❤✍
हमें तो सिर्फ़ जगाना है #सोने वालों को
जो दर #खुला है वहाँ हम सदा नहीं देंगे।…❤❤✍
रिवायतों की सफ़ें #तोड़ कर बढ़ो वर्ना
जो तुम से आगे हैं वो #रास्ता नहीं देंगे।…❤❤✍
यहाँ कहाँ तिरा #सज्जादा आ के ख़ाक पे बैठ
कि हम #फ़क़ीर तुझे बोरिया नहीं देंगे।…❤❤✍
शराब पी के बड़े #तजरबे हुए हैं हमें
शरीफ़ लोगों को हम #मशवरा नहीं देंगे।…❤❤✍

साथ मंज़िल थी मगर #ख़ौफ़-ओ-ख़तर ऐसा था
उम्र-भर चलते रहे लोग #सफ़र ऐसा था।…❤❤✍
जब वो आए तो मैं ख़ुश भी हुआ #शर्मिंदा भी
मेरी तक़दीर थी ऐसी मिरा घर ऐसा था।…❤❤✍
हिफ़्ज़ थीं मुझ को भी #चेहरों की किताबें क्या क्या
दिल शिकस्ता था #मगर तेज़ नज़र ऐसा था।…❤❤✍
आग ओढ़े था #मगर बाँट रहा था साया
धूप के शहर में इक #तन्हा शजर ऐसा था।…❤❤✍
लोग ख़ुद अपने #चराग़ों को बुझा कर सोए
शहर में तेज़ #हवाओं का असर ऐसा था।…❤❤✍

समन्दरों में #मुआफिक हवा चलाता है
जहाज़ खुद नहीं चलते #खुदा चलाता है।…❤❤✍
ये जा के मील के #पत्थर पे कोई लिख आये
वो हम नहीं हैं, जिन्हें #रास्ता चलाता है।…❤❤✍
वो पाँच वक़्त #नज़र आता है नमाजों में
मगर सुना है कि शब को #जुआ चलाता है।…❤❤✍
ये लोग पांव नहीं #जेहन से अपाहिज हैं
उधर चलेंगे जिधर #रहनुमा चलाता है।…❤❤✍
हम अपने बूढे #चिरागों पे खूब इतराए
और उसको भूल गए जो #हवा चलाता है।…❤❤✍

पेशानियों पे लिखे #मुक़द्दर नहीं मिले
दस्तार कहाँ मिलेंगे जहाँ सर नहीं मिले।…❤❤✍
आवारगी को #डूबते सूरज से रब्त है,
मग़्रिब के बाद हम भी तो #घर पर नहीं मिले।…❤❤✍
कल #आईनों का जश्न हुआ था तमाम रात,
अन्धे तमाशबीनों को #पत्थर नहीं मिले।…❤❤✍
मैं चाहता था ख़ुद से #मुलाक़ात हो मगर,
आईने मेरे क़द के #बराबर नहीं मिले।…❤❤✍
परदेस जा रहे हो तो #सब देखते चलो,
मुमकिन है #वापस आओ तो ये घर नहीं मिले।…❤❤✍

अब ना मैं हूँ, ना #बाकी हैं ज़माने मेरे​,
फिर भी मशहूर हैं #शहरों में फ़साने मेरे​,
ज़िन्दगी है तो नए #ज़ख्म भी लग जाएंगे​,
अब भी बाकी हैं कई #दोस्त पुराने मेरे।…❤❤✍

लू भी चलती थी तो #बादे-शबा कहते थे,
पांव फैलाये #अंधेरो को दिया कहते थे,
उनका #अंजाम तुझे याद नही है शायद,
और भी लोग थे जो #खुद को खुदा कहते थे।…❤❤✍

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Also Read:-

(Best 101+) Aaj Ka Suvichar in Hindi 2021 | आज का सुविचार

(Best 101+) Romantic Shayari in Hindi 2021 | Romantic Status in Hindi

(Best 151+) Couple Shayari in Hindi 2021 | Shayari on Couple With Photos

(Best 101+) Husband Shayari in Hindi | Shayari For Husband 2021

(Best 101+) Comedy Shayari & Funny Shayari in Hindi 2021

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Rahat Indori Shayari in Hindi Images

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
rahat indori shayari for love

अजनबी #ख़्वाहिशें सीने में दबा भी न सकूँ,
ऐसे ज़िद्दी हैं #परिंदे कि उड़ा भी न सकूँ,
फूँक #डालूँगा किसी रोज़ मैं दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि #जला भी न सकूँ।…❤❤✍

आते जाते हैं कई रंग मेरे #चेहरे पर,
लोग लेते हैं मजा ज़िक्र #तुम्हारा कर के।…❤❤✍

मैंने दिल दे कर उसे की थी #वफ़ा की इब्तिदा
उसने धोखा दे के ये #किस्सा मुकम्मल कर दिया
शहर में चर्चा है आख़िर ऐसी #लड़की कौन है,
जिसने अच्छे खासे एक #शायर को पागल कर दिया।…❤❤✍

हर एक हर्फ का #अन्दाज बदल रक्खा है
आज से हमने तेरा नाम #ग़ज़ल रक्खा है
मैंने शाहों की #मोहब्बत का भरम तोड़ दिया
मेरे कमरे में भी एक #ताजमहल रक्खा है।…❤❤✍

कभी #महक की तरह हम गुलों से उड़ते हैं,
कभी धुए की तरह #परबतों से उड़ते हैं,
ये कैंचियाँ हमें #उड़ने से ख़ाक रोकेंगी,
के हम परों से नहीं #हौसलों से उड़ते हैं।…❤❤✍

प्यास तो अपनी सात #समन्दर जैसी थी,
ना हक हमने #बारिश का अहसान लिया।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari in Hindi Two Line

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
two linerahat indori shayari in hindi

जा के ये कह दो कोई #शोलो से,
#चिंगारी से फूल इस बार खिले है बड़ी तय्यारी से
बादशाहों से भी फेंके हुए #सिक्के ना लिए
हमने ख़ैरात भी माँगी है तो #ख़ुद्दारी से।…❤❤✍

मैं वो दरिया हूँ की हर बूंद #भँवर है जिसकी,
तुमने अच्छा ही किया मुझसे #किनारा करके।…❤❤✍

मेरे खलुस की #गहराई से नहीं मिलते,
ये झूठे लोग है #सचाई से नहीं मिलते
#मोहब्बतों का सबक दे रहे है दुनिया को
जो ईद अपने सगे #भाई से नहीं मिलते।…❤❤✍

अँधेरे चारों तरफ़ #सायं-सायं करने लगे
चिराग़ हाथ #उठाकर दुआएँ करने लगे।…❤❤✍
तरक़्क़ी कर गए #बीमारियों के सौदागर
ये सब मरीज़ हैं जो अब #दवाएँ करने लगे।…❤❤✍
लहूलोहान पड़ा था #ज़मीं पे इक सूरज
परिन्दे अपने परों से #हवाएँ करने लगे।…❤❤✍
ज़मीं पे आ गए #आँखों से टूट कर आँसू
बुरी ख़बर है #फ़रिश्ते ख़ताएँ करने लगे।…❤❤✍
झुलस रहे हैं यहाँ #छाँव बाँटने वाले
वो धूप है कि #शजर इलतिजाएँ करने लगे।…❤❤✍
अजीब रंग था #मजलिस का, ख़ूब महफ़िल थी
सफ़ेद पोश उठे #काएँ-काएँ करने लगे।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari Poetry

अपने होने का हम इस तरह #पता देते थे
खाक मुट्ठी में #उठाते थे, उड़ा देते थे।…❤❤✍
बेसमर जान के हम #काट चुके हैं जिनको
याद आते हैं के #बेचारे हवा देते थे।…❤❤✍
उसकी #महफ़िल में वही सच था वो जो कुछ भी कहे
हम भी #गूंगों की तरह हाथ उठा देते थे।…❤❤✍
अब मेरे हाल पे #शर्मिंदा हुये हैं वो बुजुर्ग
जो मुझे #फूलने-फलने की दुआ देते थे।…❤❤✍
अब से पहले के जो #क़ातिल थे बहुत अच्छे थे
कत्ल से पहले वो #पानी तो पिला देते थे।…❤❤✍
वो हमें #कोसता रहता था जमाने भर में
और हम अपना #कोई शेर सुना देते थे।…❤❤✍
घर की तामीर में हम #बरसों रहे हैं पागल
रोज #दीवार उठाते थे, गिरा देते थे।…❤❤✍
हम भी अब #झूठ की पेशानी को बोसा देंगे
तुम भी सच #बोलने वालों के सज़ा देते थे।…❤❤✍

आँख प्यासी है कोई #मन्ज़र दे,
इस जज़ीरे को भी #समन्दर दे।…❤❤✍
अपना चेहरा #तलाश करना है,
गर नहीं आइना तो #पत्थर दे।…❤❤✍
बन्द #कलियों को चाहिये शबनम,
इन #चिराग़ों में रोशनी भर दे।…❤❤✍
पत्थरों के सरों से #कर्ज़ उतार,
इस सदी को कोई #पयम्बर दे।…❤❤✍
क़हक़हों में #गुज़र रही है हयात,
अब किसी दिन #उदास भी कर दे।…❤❤✍
फिर न कहना के #ख़ुदकुशी है गुनाह,
आज #फ़ुर्सत है फ़ैसला कर दे।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari Attitude

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
rahat indori shayari in urdu

इन्तेज़मात नये सिरे से #सम्भाले जायें,
जितने कमज़र्फ़ हैं #महफ़िल से निकाले जायें।…❤❤✍
मेरा घर आग की लपटों में #छुपा है लेकिन,
जब मज़ा है तेरे #आँगन में उजाले जायें।…❤❤✍
ग़म सलामत है तो #पीते ही रहेंगे लेकिन,
पहले मैख़ाने की #हालत सम्भाले जायें।…❤❤✍
ख़ाली #वक़्तों में कहीं बैठ के रोलें यारो,
फ़ुर्सतें हैं तो #समन्दर ही खगांले जायें।…❤❤✍
ख़ाक में यूँ न मिला #ज़ब्त की तौहीन न कर,
ये वो आँसू हैं जो #दुनिया को बहा ले जायें।…❤❤✍
हम भी प्यासे हैं ये #एहसास तो हो साक़ी को,
ख़ाली शीशे ही #हवाओं में उछाले जायें।…❤❤✍
आओ शहर में नये #दोस्त बनायें “राहत”
आस्तीनों में चलो #साँप ही पाले जायें।…❤❤✍

#उँगलियाँ यूँ न सब पर उठाया करो
खर्च करने से पहले #कमाया करो।…❤❤✍
ज़िन्दगी क्या है #खुद ही समझ जाओगे
बारिशों में पतंगें उ#ड़ाया करो।…❤❤✍
दोस्तों से #मुलाक़ात के नाम पर
नीम की #पत्तियों को चबाया करो।…❤❤✍
शाम के बाद जब #तुम सहर देख लो
कुछ #फ़क़ीरों को खाना खिलाया करो।…❤❤✍
अपने सीने में दो गज़ #ज़मीं बाँधकर
#आसमानों का ज़र्फ़ आज़माया करो।…❤❤✍
चाँद #सूरज कहाँ, अपनी मंज़िल कहाँ
ऐसे वैसों को #मुँह मत लगाया करो।…❤❤✍

उसकी कत्थई आंखों में हैं #जंतर मंतर सब
चाक़ू वाक़ू, #छुरियां वुरियां, ख़ंजर वंजर सब
जिस दिन से तुम रूठीं मुझ से रूठे रूठे हैं
चादर वादर, #तकिया वकिया, बिस्तर विस्तर सब
मुझसे #बिछड़ कर वह भी कहां अब पहले जैसी है
फीके पड़ गए #कपड़े वपड़े, ज़ेवर वेवर सब।…❤❤✍

कितनी पी #कैसे कटी रात मुझे होश नहीं
रात के साथ गई बात #मुझे होश नहीं
मुझको ये भी नहीं #मालूम कि जाना है कहाँ
थाम ले #कोई मेरा हाथ मुझे होश नहीं
आँसुओं और #शराबों में गुजारी है हयात
मैं ने कब देखी थी #बरसात मुझे होश नहीं
जाने क्या टूटा है #पैमाना कि दिल है मेरा
बिखरे-बिखरे हैं #खयालात मुझे होश नहीं।…❤❤✍

अब तो ख़ुद अपनी #साँसें भी लगती हैं बोझ सी,
उमरों का देव सारी #तवनाई ले गया।…❤❤✍

तू #शब्दों का दास रे जोगी
तेरा कहाँ #विश्वास रे जोगी
इक दिन #विष का प्याला पी जा
फिर न लगेगी #प्यास रे जोगी
ये सांसों का का #बन्दी जीवन
किसको आया #रास रे जोगी
विधवा हो गई #सारी नगरी
कौन चला #वनवास रे जोगी
पुर आई थी #मन की नदिया
बह गए सब #एहसास रे जोगी
इक पल के #सुख की क्या क़ीमत
दुख हैं बारह #मास रे जोगी
बस्ती #पीछा कब छोड़ेगी
लाख धरे #सन्यास रे जोगी।…❤❤✍

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Also Read:-

(Best 101+) Aaj Ka Suvichar in Hindi 2021 | आज का सुविचार

(Best 101+) Romantic Shayari in Hindi 2021 | Romantic Status in Hindi

(Best 151+) Couple Shayari in Hindi 2021 | Shayari on Couple With Photos

(Best 101+) Husband Shayari in Hindi | Shayari For Husband 2021

(Best 101+) Comedy Shayari & Funny Shayari in Hindi 2021

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Rahat Indori Shayari About Life

best rahat indori shayari, best shayari by rahat indori, rahat indori attitude shayari, rahat indori best quotes, rahat indori dosti shayari, best of rahat indori shayari, dr rahat indori best shayari, rahat indori top shayari, rahat indori most famous shayari, rahat indori friendship shayari, rahat indori attitude shayri, rahat indori popular shayari, rahat indori shayari best,
rahat indori shayari about death

बोल था सच तो #ज़हर पिलाया गया मुझे
अच्छाइयों ने मुझे #गुनहगार कर दिया
दो गज सही ये मेरी #मिलकियत तो हैं
ऐ मौत तूने मुझे #ज़मीदार कर दिया।…❤❤✍

दिल जलाया तो #अंजाम क्या हुआ मेरा
लिखा है तेज #हवाओं ने मर्सिया मेरा
कहीं शरीफ नमाज़ी कहीं #फ़रेबी पीर
कबीला मेरा नसब मेरा #सिलसिला मेरा
किसी ने जहर कहा है किसी ने #शहद कहा
कोई समझ नहीं पाता है #जायका मेरा
मैं चाहता था ग़ज़ल #आस्मान हो जाये
मगर ज़मीन से #चिपका है काफ़िया मेरा
मैं पत्थरों की तरह #गूंगे सामईन में था
मुझे सुनाते रहे लोग #वाकिया मेरा
उसे खबर है कि मैं #हर्फ़-हर्फ़ सूरज हूँ
वो शख्स पढ़ता रहा है लिखा हुआ मेरा
जहाँ पे #कुछ भी नहीं है वहाँ बहुत कुछ है
ये #कायनात तो है खाली हाशिया मेरा
बुलंदियों के #सफर में ये ध्यान आता है
ज़मीन देख रही होगी #रास्ता मेरा।…❤❤✍

दिलों में आग लबों पर #गुलाब रखते हैं
सब अपने चेहरों पे #दोहरी नका़ब रखते हैं
हमें चराग समझ कर #बुझा न पाओगे
हम अपने घर में कई #आफ़ताब रखते हैं
बहुत से लोग कि जो #हर्फ़-आश्ना भी नहीं
इसी में खुश हैं कि तेरी #किताब रखते हैं
ये मैकदा है, वो #मस्जिद है, वो है बुत-खाना
कहीं भी जाओ #फ़रिश्ते हिसाब रखते हैं
हमारे शहर के #मंजर न देख पायेंगे
यहाँ के लोग तो #आँखों में ख़्वाब रखते हैं।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari on Friendship

दोस्ती जब #किसी से की जाये,
दुश्मनों की भी #राय ली जाये,
मौत का ज़हर है #फ़िज़ाओं में,
अब कहाँ जा के #साँस ली जाये,
बस इसी सोच में हूँ #डूबा हुआ,
ये नदी कैसे #पार की जाये,
मेरे माज़ी के #ज़ख़्म भरने लगे,
आज फिर कोई #भूल की जाये,
बोतलें #खोल के तो पी बरसों,
आज दिल #खोल के भी पी जाये।…❤❤✍

अगर #ख़िलाफ़ हैं होने दो जान थोड़ी है
ये सब धुआँ है कोई #आसमान थोड़ी है
लगेगी आग तो #आएँगे घर कई ज़द में
यहाँ पे सिर्फ़ हमारा #मकान थोड़ी है
मैं जानता हूँ के #दुश्मन भी कम नहीं लेकिन
हमारी तरहा #हथेली पे जान थोड़ी है
हमारे मुँह से जो निकले वही #सदाक़त है
हमारे मुँह में #तुम्हारी ज़ुबान थोड़ी है
जो आज साहिबे #मसनद हैं कल नहीं होंगे
किराएदार हैं ज़ाती #मकान थोड़ी है
सभी का ख़ून है #शामिल यहाँ की मिट्टी में
किसी के बाप का #हिन्दोस्तान थोड़ी है।…❤❤✍

तीरगी चांद के #ज़ीने से सहर तक पहुँची
ज़ुल्फ़ कन्धे से जो #सरकी तो कमर तक पहुँची
मैंने पूछा था कि ये हाथ में #पत्थर क्यों है
बात जब आगे बढी़ तो मेरे #सर तक पहुँची
मैं तो सोया था मगर #बारहा तुझ से मिलने
जिस्म से आँख #निकल कर तेरे घर तक पहुँची
तुम तो सूरज के #पुजारी हो तुम्हे क्या मालुम
रात किस हाल में #कट-कट के सहर तक पहुँची
एक शब ऐसी भी #गुजरी है खयालों में तेरे
आहटें जज़्ब किये रात #सहर तक पहुँची।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari For Bewafa

(Best 151+) Rahat Indori Shayari, Poetry, Status in Hindi 2021
rahat indori shayari best lines

पेशानियों पे लिखे #मुक़द्दर नहीं मिले,
दस्तार कहाँ मिलेंगे #जहाँ सर नहीं मिले,
आवारगी को डूबते #सूरज से रब्त है,
मग़्रिब के बाद हम भी तो #घर पर नहीं मिले,
कल #आईनों का जश्न हुआ था तमाम रात,
अन्धे #तमाशबीनों को पत्थर नहीं मिले,
मैं चाहता था #ख़ुद से मुलाक़ात हो मगर,
आईने मेरे क़द के #बराबर नहीं मिले,
परदेस जा रहे हो तो #सब देखते चलो,
मुमकिन है #वापस आओ तो ये घर नहीं मिले।…❤❤✍

जो मंसबो के #पुजारी पेहेन के आते हैं।
कुलाह तोख से #भारी पेहेन के आती है।
अमीर सेहर तेरी तरह #कीमती पोषक।
मेरी गली में #भिखारी पेहेन के आते हैं।
यही यकिक है #शाही के ताज की जीनत।
जो उँगलियों में #मदारी पेहेन के आते हैं।
इबादतों की #हिफाज़त बझी उनके जिम्मे हैं।
जो मस्जिदों में #सफारी पेहेन के आते हैं।…❤❤✍

ये सानेहा तो किसी दिन #गुजरने वाला था
मैं बच भी जाता तो #इक रोज मरने वाला था
तेरे सलूक तेरी #आगही की उम्र दराज़
मेरे अज़ीज़ मेरा #ज़ख्म भरने वाला था
#बुलंदियों का नशा टूट कर बिखरने लगा
मेरा जहाज़ #ज़मीन पर उतरने वाला था
मेरा नसीब मेरे हाथ #काट गये वर्ना
मैं तेरी माँग में #सिंदूर भरने वाला था
मेरे चिराग मेरी #शब मेरी मुंडेरें हैं
मैं कब शरीर #हवाओं से डरने वाला था।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari on Love

लोग हर मोड़ पे #रुक-रुक के संभलते क्यों हैं
#इतना डरते हैं तो फिर घर से निकलते क्यों हैं
मैं न #जुगनू हूँ, दिया हूँ न कोई तारा हूँ
रोशनी वाले मेरे #नाम से जलते क्यों हैं
नींद से मेरा त’#अल्लुक़ ही नहीं बरसों से
ख्वाब आ आ के मेरी #छत पे टहलते क्यों हैं
मोड़ होता है जवानी का #संभलने के लिए
और सब लोग यहीं #आके फिसलते क्यों हैं।…❤❤✍

नए किरदार #आते जा रहे हैं
मगर नाटक #पुराना चल रहा है।…❤❤✍

घर के बाहर #ढूँढता रहता हूँ दुनिया
घर के अंदर #दुनिया-दारी रहती है।…❤❤✍

Rahat Indori Emotional Shayari

(Best 151+) Rahat Indori Shayari, Poetry, Status in Hindi 2021
rahat indori shayari english

वो चाहता था कि #कासा ख़रीद ले मेरा
मैं उस के ताज की #क़ीमत लगा के लौट आया।…❤❤✍

मिरी ख़्वाहिश है कि #आँगन में न दीवार उठे
मिरे भाई मिरे #हिस्से की ज़मीं तू रख ले।…❤❤✍

बोतलें खोल कर तो पी #बरसों
आज दिल #खोल कर भी पी जाए।…❤❤✍

एक ही नद्दी के हैं ये दो #किनारे दोस्तो
दोस्ताना ज़िंदगी से मौत से #यारी रखो।…❤❤✍

ख़याल था कि ये #पथराव रोक दें चल कर
जो होश आया तो देखा #लहू लहू हम थे।…❤❤✍

कॉलेज के सब #बच्चे चुप हैं काग़ज़ की इक नाव लिए
चारों तरफ़ दरिया की #सूरत फैली हुई बेकारी है।…❤❤✍

मैं आख़िर कौन सा #मौसम तुम्हारे नाम कर देता
यहाँ हर एक मौसम को #गुज़र जाने की जल्दी थी।…❤❤✍

ज़िंदगी है इक सफ़र और #ज़िंदगी की राह में
ज़िंदगी भी आए तो #ठोकर लगानी चाहिए।…❤❤✍

घर से ये सोच के #निकला हूँ कि मर जाना है
अब कोई राह दिखा दे कि #किधर जाना है।…❤❤✍

सिर्फ़ ख़ंजर ही नहीं #आँखों में पानी चाहिए
ऐ ख़ुदा दुश्मन भी मुझ को #ख़ानदानी चाहिए।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari For Friends

मैं मर जाऊँ तो मेरी एक अलग #पहचान लिख देना
लहू से मेरी पेशानी पे #हिंदुस्तान लिख देना।…❤❤✍

अंदर का ज़हर #चूम लिया धुल के आ गए
कितने #शरीफ़ लोग थे सब खुल के आ गए।…❤❤✍

अजनबी #ख़्वाहिशें , सीने में दबा भी न सकूँ
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे, कि #उड़ा भी न सकूँ।…❤❤✍

शाख़ों से टूट #जाएँ वो पत्ते नहीं हैं हम
आँधी से कोई कह दे कि #औक़ात में रहे।…❤❤✍

सूरज सितारे #चाँद मिरे सात में रहे
जब तक #तुम्हारे हात मिरे हात में रहे।…❤❤✍

कभी अकेले में मिलकर #झंझोड़ दूंगा उसे
जहां-जहां से टूटा है #जोड़ दूंगा उसे
मुझे वो छोड़ गया ये #कमाल है उसका
इरादा मैंने किया था कि #छोड़ दूंगा उसे
पसीने बांटता #फिरता है हर तरफ सूरज
कभी जो हाथ लगा तो #निचोड़ दूंगा उसे।…❤❤✍

Rahat Indori Shayari Romantic in Hindi

#साल-हा-साल और एक लम्हा
कोई भी तो न #इनमें बल आया
खुद ही एक दर पे #मैंने दस्तक दी
खुद ही #लड़का सा मैं निकल आया।…❤❤✍

शर्म, #दहशत, झिझक, परेशानी
नाज़ से काम #क्यों नहीं लेतीं
आप, वो, जी, #मगर ये सब क्या है
तुम मेरा #नाम क्यों नहीं लेतीं।…❤❤✍

जिहालतों के #अँधेरे मिटा के लौट आया
मैं आज सारी #किताबें जला के लौट आया
वो अब भी #रेल में बैठी सिसक रही होगी
मैं अपना हाथ हवा में #हिला के लौट आया
खबर मिली है के #सोना निकल रहा है वहां
मैं जिस ज़मीन पे #ठोकर लगा के लौट आया
वो चाहता था के #कासा खरीद ले मेरा
मैं उसके ताज की #कीमत लगा के लौट आया।…❤❤✍

जवान आँखों के #जुगनू चमक रहे होंगे
अब अपने गाँव में #अमरुद पक रहे होंगे
भुलादे मुझको मगर, मेरी #उंगलियों के निशान
तेरे बदन पे अभी तक चमक रहे होंगे
​तेरी हर बात ​मोहब्बत में #गँवारा करके​,
​दिल के #बाज़ार में बैठे हैं खसारा करके​,
​मैं वो #दरिया हूँ कि हर बूंद भंवर है जिसकी​,​​
​तुमने अच्छा ही किया #मुझसे किनारा करके।…❤❤✍

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Also Read:-

(Best 101+) Aaj Ka Suvichar in Hindi 2021 | आज का सुविचार

(Best 101+) Romantic Shayari in Hindi 2021 | Romantic Status in Hindi

(Best 151+) Couple Shayari in Hindi 2021 | Shayari on Couple With Photos

(Best 101+) Husband Shayari in Hindi | Shayari For Husband 2021

(Best 101+) Comedy Shayari & Funny Shayari in Hindi 2021

_________❤❤✍___________❤❤✍________

Hope you All Guys like to read this post collection of Best Rahat Indori Shayari in Hindi 2021 for WhatsApp, Facebook and Instagram. Thanks for reading Our content, I hope you enjoyed a lot to read these statuses.

If you really like them please share it on WhatsApp, Facebook and other social media sites by clicking the share button below. If you have any line in your mind or want to share something about Latest Rahat Indori Shayari in Hindi 2021, then comment in the post.

Leave a Comment